Sat. Feb 27th, 2021

INDIAN RAILWAYS ने दी खुशखबरी,जल्‍द ही देश में शुरू होगा और गाड़ियों का परिचालन

Share this News

INDIAN RAILWAYS ने दी खुशखबरी,जल्‍द ही देश में शुरू होगा और गाड़ियों का परिचालन

बी.बी.एन-डेस्क

नई दिल्‍ली।भारतीय रेलवे,जिसने महामारी की वजह से अपने इतिहास में पहली बार यात्री,मेल और एक्‍सप्रेस ट्रेनों को पूरी तरह से बंद कर दिया था,अब उम्‍मीद जताई है कि अगले एक-दो महीने में उसका परिचालन अनुपात या खर्च और कमाई के बीच अंतर को बेहतर बना लिया जाएगा।इसका सीधा मतलब है कि रेलवे जल्‍द ही और ट्रेनें चलाने की घोषणा करेगी।

भारतीय रेलवे के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा कि रेलवे ने अपनी मेल,एक्‍सप्रेस और पैसेंजर ट्रेन सेवा को कोविड-19 की वजह से 25 मार्च,2020 से बंद कर दिया था।अब तक रेलवे अपनी कुल मेल,एक्‍सप्रेस और यात्री ट्रेनों में से केवल 60 प्रतिशत का ही परिचालन कर रही है।अधिकारी ने बताया कि हमें पूरी उम्‍मीद है कि अगले एक-दो महीने में हमारा परिचालन अनुपात सुधरकर 95 से 96 प्रतिशत हो जाएगा।इसका मतलब है कि रेलवे अपनी कुल ट्रेनों में से 96 प्रतिशत ट्रेनों का परिचालन जल्‍द करेगा।इससे यात्रियों को अधिक ट्रेनों की सुविधा मिल सकेगी।

रेलवे अधिकारी ने बताया कि परिचालन अनुपात यह बताता है कि कितनी दक्षता के साथ राष्‍ट्रीय ट्रांसपोर्टर अपना परिचालन कर रहा है और उसकी वित्‍तीय सेहत कितनी स्‍वस्‍थ है।वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा कि इं‍डियन रेलवे की सेहत सुधारने के लिए पहले ही कई उपाय किए गए हैं।हमनें संसाधनों को ऑप्‍टीमाइज कर अपने खर्च में बड़ी कटौती की है।इससे रेलवे को 18,000 करोड़ रुपये की बचत हुई है। रेलवे ईंधन खर्च कम करने पर भी ध्‍यान दे रही है।

अधिकारी ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान यात्री,मेल और एक्‍सप्रेस ट्रेनों का परिचालन बंद होने के बावजूद फ्रेट बिजनेस ने रेलवे को घाटे की भरपाई करने में मदद की है।वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को संसद में पेश बजट-2021 के अपने भाषण में भारतीय रेलवे को अबतक का सबसे बड़ा आवंटन दिया है।भारतीय रेलवे को 2,15,058 करोड़ रुपये का बजट आवंटन हुआ है,जिसमें 7500 करोड़ रुपये आंतरिक स्रोतों से,1,00,258 करोड़ रुपये अतिरिक्‍त बजटरी स्रोतों से और 1,07,100 करोड़ रुपये आम बजट से पूंजी खर्च के रूप में उपलब्‍ध कराए जाएंगे।