Fri. Jan 21st, 2022

बिहार में पत्रकारिता है खतरे में ,पत्रकारो पर लगातार हो है हमला , सरकार मौन

Share this News
  • अपराधी तो अपराधी पुलिस भी कर रहे है हमला ।

डेस्क रिपोर्ट :

नालंदा जिले के रहुई थाना के एक दारोगा ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार रवि रंजन कुमार की पिटाई करते हुए उनसे गाली-गलौज की। इसका फुटेज तेजी से वायरल हो रहा है। बदसलूकी करने वाले दारोगा अनिल कुमार बताए जा रहे हैं।
फुटेज में दारोगा की दबंगई स्पष्ट सुनाई दे रही है। 

दारोगा कह रहे हैं कि वीडियो बनाएगा तो मारकर चूर देंगे। सब पत्रकारिता निकाल देंगे। पत्रकार कह रहे हैं कि आपने हाथ क्यों उठाया। हम बाइक रोक रहे थे। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आ गई। विधि-व्यवस्था डीएसपी ने घटना की जांच का आदेश दिया है।

पीड़ित पत्रकार ने बताया कि वे खबर बनाने रहुई गए थे। वहां से लौटने के दौरान रहुई थाना कार्यालय के गेट के समीप उक्त दारोगा ने बाइक रुकवा दी। हेलमेट नहीं रहने पर उन्होंने कहा कि आप फाइन ले लीजिए। इसके बाद दारोगा बदसलूकी करते हुए बाइक की चाबी निकाल ली। परिचय देने के बाद दारोगा गाली-गलौच करने लगे।

इसके बाद संवाददाता मोबाइल में फुटेज बनाने लगे। इससे आक्रोशित हो दारोगा ने मोबाइल छीन लिया और पिटाई करते हुए कहा कि कलेजा चूर कर सब पत्रकारिता निकाल देंगे। छीनने के क्रम में मोबाइल रिकॉडिंग मोड में था। इसमें सारोगा की करतूत कैद हो गई। घटना के बाद पीड़ित ने एसपी को कॉल कर दारोगा के करतूत की जानकारी दी। साथी से बदसलूकी पर पत्रकारों में रोष है। जिले के पत्रकार पुलिस पदाधिकारी पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

विधि-व्यवस्था डीएसपी रौशन कुमार गुप्ता ने बताया कि घटना उनके संज्ञान में आया है। पदाधिकारी द्वारा अमार्यादित व्यवहार करना गलत है। उन्होंने घटना की जांच का आदेश दिया है ।