रिविलगंज सारण के ब्रह्मचारी मठ से गायब बेशकीमती मूर्ति बरामद 07 लुटेरे हुए गिरफ्तार

Share this News

छपरा से संवाददाता आनंद वर्मा की रिपोर्ट वर्मा की रिपोर्ट

  • रिविलगंज थानान्तर्गत ब्रम्हाचारी मठ से पाँच करोड़ मूल्य के लूटी गई सभी बेशकीमती मूर्तियाँ बरामद एवं लूट में संलिप्त 07 लूटेरे गिरफतार । 
  • भगवान बाजार के हाथीदास मठ से चोरी गई राधा – कृष्ण की मूर्ति भी की गई बरामद । 
  • मूर्तिलूटेरा / चोर का अन्तर्जिला और अंतर्राज्यीय कनेक्शन | 
  • मूर्तिचोरी / लूट के मुख्य षडयंत्रकर्ता अभय सिंह 2015 में मूर्ति के साथ वैशाली नगर थाना से जा चुका है जेल।  

दिनांक 23 / 24.09.21 की रात्रि रिविलगंज थानान्तर्गत ब्रम्हचारी मठ में प्रवेश कर अज्ञात लूटेरो द्वारा प्रधान पुजारी को गंभीर रूप से जख्मी कर मठ के मंदिर में अवस्थित भगवान के पाँच बेशकिमती मूर्तियों को लूट कर ले गये जिसका अनुमानित मुल्य प्राथमिकी में पाँच करोड़ दर्शाया गया । इस संदर्भ में रिविलगंज थाना कांड सं0-348 / 21 दिं0-24.09.21 धारा -395 / 397 भा0 द0 वि0 पंजीकृत कर त्वरित अनुसंधान प्रारंभ की गई । इसे चुनौती के रूप में लेते हुए उनकी गिरफतारी एवं लूटी गई मूर्तियों की बरामदगी हेतु श्री संतोष कुमार , भा0 पु0 सं0 , पुलिस अधीक्षक , सारण द्वारा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी , सदर के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया । मानवीय एवं तकनीकी आसूचना के आधार पर दिनांक 15.10.21 को विशेष टीम द्वारा तकनीकी एवं परम्परागत अनुसंधान / आसूचना के आधार पर संदिग्धों को पुलिस अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई । इस क्रम में संदिग्ध अपराधकर्मी अभय कुमार सिंह सा0+थाना -कोपा ने रिविलगंज थानान्तर्गत ब्रम्हचारी मठ मूर्ति लूट के मुख्य षडयंत्रकर्ता होना स्वीकार किया तथा उक्त लूट के घटना में संलिप्त सभी अपराधकर्मियों तथा लूटी गई मूर्ति को किन – किन अपराधकर्मियों के सहयोग से कहाँ कहाँ छुपाया गया है , के संदर्भ में बताया । इस आधार पर इस कांड में संलिप्त अन्य अपराधकर्मियों को गिरफ्तार किया गया तथा लूटी गई मूर्ति में से तीन मूर्ति को उनके निशानदेही पर नदी में पानी के अंदर छुपा कर रखा गया था , को बरामद कर लिया गया । गिरफ्तार अभय सिंह ने बताया कि ब्रहम्चारी मठ से लूटी गई मूर्तियों में से दो मूर्ति ( लड्डु गोपाल एवम् सीताजी ) को हरियाणा में छुपाकर रखे है । उक्त मूर्ति को भी हरियाणा पुलिस के सहयोग से बरामद कर लिया गया तथा इस सम्बंध में अग्रतर अनुसंधान जारी है ।

गिरफ्तार अभय सिंह से अग्रिम पूछताछ के क्रम में दिनांक 14.09.21 को भगवान बाजार थानान्तर्गत हाथीदास मठ से राधा – कृष्ण की चोरी गई मूर्ती में भी अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए इस घटना में संलिप्त अन्य  अपराधकर्मियों का नाम बताया गया । इनके निशानदेही पर हाथीदास मठ से चोरी गई राधा – कृष्ण की मूर्ति को भी बरामद कर लिया गया ।

अभय सिंह कुख्यात मुर्ति लूटेरा / चोर गिरोह का सरगना है तथा ये 2015 में वैशाली जिले के नगर थाना से चोरी की मूर्ति के साथ जेल जा चुके है । गिरफ्तार अभय सिंह का अन्तर्राज्यीय मूर्ति तस्करों से सम्बन्ध प्रकाश में आया है , जिसके संदर्भ में सघन अनुसंधान की जा रही है । इनका अपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है । इनसे अग्रिम अनुसंधान एवं पुछताछ से अवैध मूर्ति तस्करी के अन्तर्राज्यीय गिरोह के संदर्भ में कुछ ठोस सूत्र मिलने की पूर्ण संभावना है ।

इस कांड में संलिप्त एवं अबतक गिरफ्तार नहीं हुए अपराधकर्मियों की गिरफ्तारी हेतु सघन छापामारी की जा रही है ।

गिरफतार अभियुक्तों का नाम एवं पता : 

1. अभय सिंह , पे0 – अशोक सिंह , सा0 – समहौता , थाना – कोपा , जिला – सारण।

2. राजन कुमार शर्मा , पे0 राम सिंहासन शर्मा , सा0 ब्रहम्पुर थाना भगवान बाजार , जिला – सारण।

3. करण कुमार , पे 0 कृष्णा महतो , सा0 औली थाना रिविलगंज , जिला – सारण।

4. छोटु कुमार , पे0 भागीरथ राय , सा0 – टरवों पोझी , थाना – परसा , जिला – सारण।

5. मनीष कुमार , पे0 मौजीलाल राय , सा0- कुदरबाधा , थाना – गरखा , जिला – सारण।

6. सुरज कुमार , पे0- तारकेश्वर साह , सा0- मोबारकपुर थाना रिविलगंज , जिला – सारण।

7. प्रीतम कुमार , पे0 उपेन्द्र राय , सा0 जौहरी पकड़ी थाना – अमनौर जिला – सारण।

 

बरामदगी / जप्ती की विवरणी :

1. ब्रम्हचारी मठ से लूटी गई सभी पाँचो मूर्तियों ( राम , बजरंगबली , नारद , लड्डु गोपाल एवं सीताजी की धातु की प्रतिमा )।

2. भगवान बाजार थानान्तर्गत हाथीदास मठ से चोरी की गई राधे – कृष्ण की मूर्ति ।

3. घटना में प्रयुक्त एक अपाची मोटरसाईकिल ।

4. घटना में प्रयुक्त मोबाईल ।

टीम में शामिल पुलिस पदाधिकारी / कर्मी : 

एस0 आई0 टी0 ( विशेष अनुसंधान दल ) में शामिल पु0 अ0 नि0 किशोरी चौधरी , थानाध्यक्ष , बनियापुर थाना , पु0 अ0 नि0 ओमप्रकाश चौहान , थानाध्यक्ष रिविलगंज थाना द्वारा अपने थाना के पुलिस पदाधिकारी / कर्मि प्रभारी तथा पु0 अ0 नि0 रामसेवक रावत , डी0 आई0 यू0 के साथ मिलकर कार्रवाई की गई । 

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सारण पुलिस टीम द्वारा किया गया यह कार्य सराहनीय है तथा इस टीम में पदाधिकारी / कर्मी प्रशंसा के पात्र है । इन सभी को पुरस्कृत किया जाएगा ।