Mon. Sep 26th, 2022

धूम धाम से मनी शिक्षकों के आदर्श डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती

Share this News

धूम धाम से मनी शिक्षकों के आदर्श डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती

सारण अर्जुन सिंह : शहर के विभिन्न सरकारी तथा गैर शैक्षणिक संस्थानों में शिक्षक दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर जगह-जगह कार्यक्रम आयोजित कर राष्ट्रपति डा. एस राधाकृष्णन को याद करते हुए शिक्षकों के प्रति सम्मान व्यक्त किया गया। सोनू मैथ क्लासेज में आयोजित शिक्षक दिवस समारोह में बोलते हुए संचालक सोनू शर्मा ने डा. एस. राधाकृष्णन के विचारों व आदर्शो पर चलने की प्रेरणा लेने की छात्राओं से अपील की। उन्होंने कहा कि शिक्षक गाईड होते हैं। वे वही है जो हमें उन रास्तों पर चलना सिखाते हैं जिन पर चलने से हमारा उत्थान होता है। उन्होंने कहा कि टीचर्स डे का मतलब केवल उस दिन को मनाया जाना नहीं बल्कि अपनी टीचर्स की बातों को मानकर अच्छा बनना है।

समारोह में बोलते हुए पत्रकार अर्जुन सिंह ने शिक्षक दिवस के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि डा. एस. राधाकृष्णन से उनके एक छात्र ने जब 5 सितंबर के दिन उनका जन्म दिन मनाने की इजाजत मांगी तो उन्होंने कहा कि उनके जन्म दिन के शिक्षक दिवस के तौर पर मनाया जाय। इसीलिए 5 सितंबर 1962 से भारत में टीचर्स डे मनाया जा रहा है। श्री सिंह ने कहा डा. एस. राधाकृष्णन का सपना था कि शिक्षक हमारे देश के सर्वश्रेष्ठ दिमाग वाले व्यक्ति ही हो। इस अवसर पर उक्त कोचिंग संस्थान में छात्र-छात्राओं ने अपने विचार रखे । कार्यक्रम में अभिषेक सिंह गोलू,शैलेश राज , भोलू , रितिक खुशबू कुमारी, मनिषा कुमारी, प्रियंका, सौम्या, दीपा कुमारी अभय, बिट्टू, धनंजय, यशु, रमेश अर्जुन, अभय यादव, राहुल शर्मा विवेक सहित दर्जनों छात्र-छात्राएं शामिल हुई।