Sun. Jun 26th, 2022

महिला स्वावलंबन के बिना नए ओडिशा का निर्माण संभव नहीं : प्रधान

Share this News

भुवनेश्वर, 30 दिसम्बर (हि.स.) । केन्द्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि नए ओडिशा के बिना नया भारत संभव नहीं है। ओडिशा की साढ़े चार करोड़ की जनसंख्या में 2.25 करोड़ महिलाएं हैं। जब तक महिलाओं को स्वावलंबी नहीं बनाया जाएगा, नए ओडिशा का निर्माण नहीं हो सकता।
प्रधान ने रविवार को राज्य में 100 उज्ज्वला सेनेटरी नैपकिन तैय़ारी एवं विपणन केन्द्र का शुभारंभ करते हुए कहा कि महिलाओं को रोजगार के माध्यम से स्वावलंबी बनाने के लिए उज्ज्वला सेनेटरी नैपकिन तैयारी और विपणन केन्द्र शुरू किया जा रहा है। इन केन्द्र में कम से कम 10 परिवारों की महिलाओं के लिए रोजगार प्राप्त हो सकेगा।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जब उज्ज्वला हिताधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के जरिए बात कर रहे थे तब मयूरभंज की एक महिला ने कहा था कि उनके पास अब सहारा है। इसके बाद पेट्रोलियम कंपनियों ने उज्ज्वला सेनेटरी नैपकिन योजना शुरू करने की योजना बनायी है। राज्य के 35 लाख परिवार में उज्ज्वला गैस कनेक्शन लग चुका है। इस योजना को जो विफल बता रहे हैं, वह ईर्ष्या के कारण ऐसा कह रहे हैं। नियम में लापरवाही के चलते आगामी कुछ दिनों में राज्य मे उज्ज्वला हिताधिकारियों की संख्या 35 से 45 लाख तक पहुंचेगी।