Mon. Sep 26th, 2022

आजादी के अमृत महोत्सव पर पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन, विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़कर लिया हिस्सा

Share this News

आजादी के अमृत महोत्सव पर पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन, विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़कर लिया हिस्सा

BBJ NEWS

सारण जिले के साहेबगंज में सोनरपट्टी उर्मिला कंपलेक्स अशोक अलंकार के परिसर में देश के 75 में स्वतंत्र दिवस के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसका विधिवत उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर मुख्य अतिथि श्री बलदेव चौधरी डायरेक्टर डीआरडीए, संतोष कुमार सहायक कोषागार पदाधिकारी,नीतू गुप्ता अध्यक्ष जंगल प्लानेट, ई विजय राज संस्थापक युवा क्रांति रोटी बैंक, अर्जुन सिंह प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर बिहार , मेलोड्रामा वेलफेयर सोसाइटी नई दिल्ली ने किया अपने उद्घाटन भाषण में उन्होंने कहा कि देश के 75 में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव के माध्यम से उन लोगों को धन्यवाद देने का एक प्रयास है जिसके कारण हम स्वतंत्र भारत में सांस ले रहे हैं। शहीदों एवं महापुरुषों ने इसे प्राप्त करने के लिए अपने प्राणों की आहुति दी। इस अवसर सभी ने महात्मा गांधी, सरदार बल्लभ भाई पटेल, पंडित जवाहरलाल नेहरू, भगत सिंह ,चंद्रशेखर आजाद, खुदीराम बोस के तैल्य चित्र पर श्रद्धा सुमन पुष्प अर्पित किया।

भारत के आजादी के शानदार 75 वर्ष‘‘ विषय पर आयोजित इस प्रतियोगिता में युवराज सिंह को प्रथम, अक्षया कुशवाहा को द्वितीय, सोम्या कुमारी को तृतीय तथा अनमोल को चतुर्थ पुरस्कार के लिए सफल घोषित किया गया। प्रतिभागियों ने एक से बढ़कर एक पेंटिंग बनाई, अतिथियों ने प्रतियोगिता और हुनर का अवलोकन कर उनकी तारीफ की कार्यक्रम के दौरान मौके पर प्रतिभागियों ने पूरी मेहनत के साथ एक से बढ़कर एक पेंटिंग बनाई किन्तु विषय-वस्तु के अनुसार बनाये गये पेंटिंग में परिणाम नें खास स्थान रखा। इस अवसर पर सभी अतिथियों ने पेंटिंग का अवलोकन किया तथा प्रतिभागियों द्वारा बनाए गए पेंटिंग की सराहना की। इस अवसर पर मेलोड्रामा वेलफेयर सोसाइटी के बिहार प्रभारी अर्जुन सिंह ने कहा कि किसी राष्ट्र का भविष्य तभी उज्जवल होता है जब वह अपने अतीत के अनुभवों को विरासत के गर्भ से पल पल जुड़ा रहता है भारत के पास गर्व करने के लिए समृद्ध ऐतिहासिक चेतना और संस्कृति विरासत का अथाह भंडार है इस अवसर पर ई. विजय राज व नितू गुप्ता ने कहा कि हम सभी का सौभाग्य है कि हम आजाद भारत के इन ऐतिहासिक कालखंड के साक्षी बन रहे हैं जिसमें भारत उन्नति की नई ऊंचाइयों को छू रहा है। इस अवसर पर बिंदिया जयसवाल, श्वेता महेश्वरी, ई. चांदनी प्रकाश श्रॉफ, डॉ. नाजिया अब्बास अबिदी आदि ने भी अपने अपने विचार रखें। सराफा संघ अध्यक्ष अरूण गुप्ता अशोक अलंकार छपरा ने सभी अतिथियों और भाग लिए बच्चो को उपहार दिए। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से किया गया।