Mon. Jul 15th, 2024

वित्त वर्ष 2024-25 के पहले महीने में भारत का औद्योगिक उत्पादन सूचकांक 5.0 प्रतिशत बढ़ गया

Share this News

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) का त्वरित अनुमान छह सप्ताह के अंतराल के साथ हर महीने की 12 तारीख (या पिछले कार्य दिवस यदि 12 तारीख को छुट्टी हो) को जारी किया जाता है और स्रोत एजेंसियों से प्राप्त आंकड़ों के साथ संकलित किया जाता है, जो बदले में उत्पादक कारखानों/प्रतिष्ठानों से डेटा प्राप्त करते हैं। इन त्वरित अनुमानों में आईआईपी की संशोधन नीति के अनुसार आगामी विज्ञप्तियों में संशोधन किया जाएगा।

मुख्य बातें:

सूचकांक

  1. अप्रैल 2024 महीने के लिए, 2011-12 आधार के साथ औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) का त्वरित अनुमान 147.7 है, जबकि अप्रैल 2023 में यह 140.7 रहा था। अप्रैल 2024 माह के लिए खनन, विनिर्माण और बिजली क्षेत्रों के लिए औद्योगिक उत्पादन के सूचकांक क्रमशः 130.8, 144.2 और 212.0 हैं।
  2. उपयोग-आधारित वर्गीकरण के अनुसार, अप्रैल 2024 माह के लिए प्राथमिक वस्तुओं के लिए सूचकांक 152.2, पूंजीगत वस्तुओं के लिए 95.3, मध्यवर्ती वस्तुओं के लिए 156.9 और बुनियादी ढांचे/निर्माण वस्तुओं के लिए 183.3 पर हैं। इसके अलावा, उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुओं और उपभोक्ता गैर-टिकाऊ वस्तुओं के लिए सूचकांक अप्रैल 2024 के महीने में क्रमशः 118.7 और 151.0 पर रहीं।

वृद्धि दर (सालाना आधार पर)

  1. अप्रैल 2024 में पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में आईआईपी वृद्धि दर 5.0 प्रतिशत है। अप्रैल 2023 में आईआईपी वृद्धि दर 4.6 प्रतिशत रही थी। अप्रैल 2023 की तुलना में अप्रैल 2024 माह के लिए तीन क्षेत्रों खनन, विनिर्माण और बिजली की वृद्धि दर क्रमशः 6.7 प्रतिशत, 3.9 प्रतिशत और 10.2 प्रतिशत है। विनिर्माण क्षेत्र के भीतर, अप्रैल 2024 माह के लिए आईआईपी की वृद्धि में शीर्ष तीन सकारात्मक योगदानकर्ता – “बुनियादी धातुओं का निर्माण” (8.1 प्रतिशत), “कोक और रिफाइन्ड पेट्रोलियम उत्पादों का विनिर्माण” (4.9 प्रतिशत) और “मोटर वाहनों, ट्रेलरों और सेमी ट्रेलरों का निर्माण” (11.4 प्रतिशत) रहे।
  2. अप्रैल 2023 की तुलना में अप्रैल 2024 में उपयोग-आधारित वर्गीकरण के अनुसार आईआईपी की वृद्धि दर प्राथमिक वस्तुओं में 7.0 प्रतिशत, पूंजीगत वस्तुओं में 3.1 प्रतिशत, मध्यवर्ती वस्तुओं में 3.2 प्रतिशत, बुनियादी ढांचे/निर्माण वस्तुओं में 8.0 प्रतिशत, उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुओं में 9.8 प्रतिशत और उपभोक्ता गैर-टिकाऊ वस्तुओं में -2.4 प्रतिशत (विवरण III) है। उपयोगआधारित वर्गीकरण के आधार पर, अप्रैल 2024 के महीने के लिए आईआईपी की वृद्धि में शीर्ष तीन सकारात्मक योगदानकर्ता हैं – प्राथमिक वस्तुएं, बुनियादी ढांचा/निर्माण वस्तुएं और उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं।
  3. पिछले 13 महीनों के लिए आईआईपी के मासिक सूचकांक और वृद्धि दर (% में)

अप्रैल 2024 माह के लिए आईआईपी के त्वरित अनुमानों के साथ, मार्च 2024 के सूचकांकों में स्रोत एजेंसियों से प्राप्त अद्यतन आंकड़ों के आलोक में पहला संशोधन किया गया है और जनवरी 2024 के सूचकांकों में अंतिम संशोधन किया गया है। अप्रैल 2024 के लिए त्वरित अनुमान, मार्च 2024 के लिए पहला संशोधन और जनवरी 2024 के लिए अंतिम संशोधन क्रमशः 92 प्रतिशत, 96 प्रतिशत और 96 प्रतिशत की भारित प्रतिक्रिया दरों पर संकलित किया गया है।

अप्रैल 2024 के महीने के लिए औद्योगिक उत्पादन सूचकांक के त्वरित अनुमानों का विवरण क्षेत्रीय, राष्ट्रीय औद्योगिक वर्गीकरण (एनआईसी-2008) के 2-अंकीय स्तर और उपयोग-आधारित वर्गीकरण द्वारा क्रमशः विवरण I, II और III में दिया गया है। इसके अलावा, उपयोगकर्ताओं को औद्योगिक क्षेत्र में बदलावों की सराहना करने के लिए, स्टेटमेंट IV उद्योग समूहों (एनआईसी-2008 के 2-अंकीय स्तर के अनुसार) और क्षेत्रों द्वारा पिछले 12 महीनों के लिए महीने-वार सूचकांक प्रदान करता है।

मई 2024 के लिए सूचकांक शुक्रवार, 12 जुलाई 2024 को जारी किया जाएगा।