राष्ट्रीय सेवा योजना, ने जय प्रकाश विश्वविद्यालय छपरा में मनाया संत रविदास जी की जयंती।

Share this News

राष्ट्रीय सेवा योजना, ने जय प्रकाश विश्वविद्यालय छपरा में मनाया संत रविदास जी की जयंती।

बी.बी.एन-डेस्क

आज संत रविदास जी की जयंती जयप्रकाश विश्वविद्यालय के सीनेट हाल में राष्ट्रीय सेवायोजना के सौजन्य से मनायी गई। संत रविदास जी की जयन्ती के इस अवसर पर माननीय कुलपति महोदय ने अपना संदेश भेजा कि संत रविदास जो पंद्रहवीं शताब्दी के महान संत, कवि,समाज सुधारक और स्वयं ईश्वर के अनुयायी थे,उन्होंने अपनी कविता के माध्यम से समाज को जो संदेश दिया है,उसे आत्मसात कर हम औऱ सामाजिक समरसता बढ़ा सकते हैं,जिसकी नितांत आवश्यकता है।
इस अवसर पर प्रोफेसर हरिश्चंद्र, पीआरओ सह

सीसीडीसी नेअपने वक्तव्य मे कहा कि संत रविदास का कथन है कि ‘मन चंगा तो कठौती में गंगा’ संत रविदास ने अपने कर्म को ही अपनी पूजा समझा और जीवन भर इसी सिद्धांत को मानते हुए कार्य किए।
इस अवसर पर कैप्टन डॉक्टर विश्वामित्र पान्डेय जो कि NCC के पदाधिकारी एवं विश्वविद्यालय के क्रीड़ा सचिव भी हैं,ने अपने उद्गार व्यक्त किये ।लेफ्टीनेंट संजय कुमार NCC पदाधिकारी ने भी उपस्थित होकर संत रविदास जी को याद किया।इस अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक मृणाल बन्धु मिश्रा, ममता कुमारी, राजकृष्ण, धर्मेंद्र कुमार, अवधेश कुमार, राकेश कुमार आदि थे।