Fri. Sep 17th, 2021

पोषण के संदेशों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए किया जायेगा प्रेरित

Share this News

पोषण के संदेशों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए किया जायेगा प्रेरित

रिपोर्ट – रितेश हन्नी

जिले में राष्ट्रीय पोषण माह के तहत जिला स्तरीय पोषण परामर्श केंद्र की स्थापना सहरसा स्टेडियम के पास में की गई है। इस दौरान आईसीडीएस जिला प्रोग्राम पदाधिकारी विनिता कुमारी, केयर इंडिया के डीटीओ ऑन विनय कुमार, जिला पोषण समन्वयक रौनक प्रताप सिंह, महिला पर्वेक्षिका दीप शिखा, चम्पी रानी, पल्ल्वी कुमारी, भारती झा, प्रियंका कुमारी, संजू कुमारी एवं आंगनबाड़ी सेविका सहित आईसीडीएस से जुड़े कर्मी मौजूद थे। जिला प्रोग्राम पदाधिकारी विनिता कुमारी ने बताया कि जिला में कुपोषण को दूर करने के लिए सामुदायिक सहभागिता जरूरी है। आम जनों में पोषण के प्रति नजरिया व उनका दैनिक व्यवहार में बदलाव लाने के मद्देनजर पोषण परामर्श केंद्र की स्थापना की गई है। उन्होंने बताया कि

पोषण परामर्श केंद्र की मदद से माता-पिता अपने शिशुओं के बेहतर पोषाहार व बच्चों में कुपोषण की स्थिति की जानकारी भी ले सकते हैं। पोषण माह के दौरान पोषण परामर्श से संबंधित कार्यों की प्रमुखता दी गई है। उन्होंने कहा सामुदायिक सहभागिता से ही यह सुनिश्चित किया जा सकता है कि गांव के हर घर में शौचालय हो और खुले में कोई भी शौच करने के लिए नहीं जाए। अच्छे पोषण का सीधा संबंध स्वच्छता से है। घर में पकाई जाने वाली चीजों को अच्छी तरह धोया जाए। बच्चों को खाना खिलाने से पहले व शौच के बाद साबुन से हाथ धोना सिखलाया जाए।

पोषण की जानकारी प्राप्त करने में होगी काफी सुविधा

आईसीडीएस डीपीओ विनिता कुमारी ने जानकारी दी कि पोषण परामर्श केंद्र की मदद से शिशुओं, किशोरियों, गर्भवती महिलाओं व धात्री माताओं को आवश्यक पोषण की जानकारी प्राप्त करने में काफी सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि पोषण संबंधी जानकारियां प्राप्त कर इसका इस्तेमाल वे खाना पकाने की गतिविधियों में शामिल कर सकेंगी।

भोजन में मौजूद खनिज पदार्थों के लाभ के बारे में हासिल होगी जानकारी

उन्होंने बताया कि पोषण परामर्श केंद्र कुपोषित बच्चों के माता-पिता पोषण परामर्श केंद्र से विभिन्न प्रकार के भोजन में मौजूद खनिज पदार्थों के लाभ के बारे में जानकारी हासिल कर अपने बच्चों की सेहत बनाने में उपयोग कर सकेंगी।

पोषण के संदेशों को जन जन तक पहुंचाने के लिए किया जायेगा प्रेरित

आईसीडीएस डीपीओ विनिता कुमारी ने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत अन्य कर्मियों को कुपोषण को दूर करने व पोषण के संदेशों को जन जन तक पहुंचाने के लिए प्रेरित किया जाना है। ताकि पोषण अभियान को जन आंदोलन के रूप में तब्दील करने में अपने कर्तव्यों का पालन करना है। पोषण अभियान के तहत पोषण परामर्श केंद्र की मदद से महिलाओं व बच्चों को पोषण के साथ स्वच्छता जैसी बुनियादी बातों को जानकारी दी जाएगी।