Tue. Oct 26th, 2021

मिस्र की इज़राइल को चेताया ग़ाज़ा पट्टी पर और हमला नहीं.

Share this News

मिस्र की इज़राइल को चेताया ग़ाज़ा पट्टी पर और हमला नहीं.

B.B.N-DESK

अल-अरबिया नेटवर्क की मंगलवार सुबह की एक रिपोर्ट के अनुसार, मिस्र ने इज़रायल से ग़ाज़ा पट्टी में ह’मलों को नहीं बढ़ाने के लिए कहा है। मिस्र का ये बयान तब आया है जब ह’मास के नेता इस्माइल हनिए ने इज़राइल के साथ de-escalation को तैयार है. मिस्र इस कोशिश में है कि इज़राइल और ग़ाज़ा के बीच चल रही लड़ाई शांत हो जाए.मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फ़तह अल-सीसी ने सोमवार के रोज़ कहा कि इज़राइल और ह’मास के बीच यु’द्ध-विराम नज़दीक है. मिस्र हाल के दिनों में इजरायल और गाजा पट्टी के बीच सं’घर्ष विराम में मध्यस्थता करने के लिए काम कर रहा है, यहां तक ​​कि रविवार को उसने अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और सोमवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन के साथ विकल्प पर चर्चा की।


अल अरबिया के को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा,”इज़रायल और फ़िलिस्लितीनियों के बीच यु’द्धविराम तक पहुंचने के लिए मिस्र हर संभव प्रयास कर रहा है- और आशा अभी भी मौजूद है कि एक सामूहिक कोशिश संघ’र्ष को समाप्त कर सकती है।” मिस्र के राष्ट्रपति ने कहा, “आत्माओं को शांत करना और हिंसा और हत्याओं को समाप्त करना तेजी से महत्वपूर्ण है।” मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो मिस्र अपने डेलीगेशन तेल-अवीव और ग़ाज़ा भेज रहा है. इन सिक्यूरिटी डेलीगेशन की कोशिश हिंसक गतिविधियों को समाप्त करना है.इज़राइल और ह’मास के बीच ताज़ा लड़ाई तब शुरू हो गई जब इज़राइल ने अनैतिक रूप से फ़िलिस्तीनी परिवारों को पूर्वी जेरुसलम से निकालने की कोशिश की. इसके अतिरिक्त अल-अक़सा मस्जिद के दमिश्क गेट के पास स्थित एक काम्प्लेक्स को बंद करवाना और मस्जिद के अन्दर घुसकर इज़राइली पुलिस का वहाँ आम लोगों पर स्टन-ग्रेनेड चलाना मामले को इस स्तर तक ले गया है.