Fri. Feb 26th, 2021

दहेज में बाइक के लिए 19 महीने के पुत्र सहित विवाहिता की जलाकर किया हत्या कर हुए फरार

Share this News

दहेज में बाइक के लिए 19 महीने के पुत्र सहित विवाहिता की जलाकर किया हत्या कर हुए फरार

रिपोर्ट अभिषेक कुमार

सारण जिले के गड़खा प्रखंड के कदना गांव में दहेज के लोभियों ने दहेज में बाइक के लिए एक विवाहिता की उसकी 19 माह के मासूम पुत्र सहित जलाकर हत्या कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद ससुराल वाले सभी फरार हो गए। मृतिका के पिता ने प्राथमिकी दर्ज कराई। जिसके बाद गड़खा पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लगातार छापेमारी कर रही है। बनियापुर थाना क्षेत्र बेरुई गांव निवासी मृतिका के पिता खलीफा महतो ने दर्ज प्राथमिकी में कहा कि 22 वर्षीय पुत्री पिंकी देवी की विवाह गड़खा थाना क्षेत्र के उत्तर कदना निवासी रामप्रवेश महतो के पुत्र सूरज कुमार से हुई। शादी के दौरान 2 लाख रुपये के जेवर,कपड़ा, फर्नीचर आदि सामान वर वधु को दान में दिया। शादी के बाद मेरी पुत्री को एक पुत्र शुभम कुमार भी हुआ। पहले तो सबकुछ ठीक-ठाक रहा परंतु, कुछ दिनों बाद मेरी पुत्री ने फोन करके बताया कि मेरे

ससुराल वाले हमें रोज रोज प्रताड़ित कर रहे हैं कि तुम्हारे मां-बाप कंगाल हैं। दहेज में कुछ नहीं दिया हमें तुम अपनी मायके से मोटरसाइकिल मांग कर लाओ नहीं तो हम लोग तुम्हें घर में नहीं रहने देंगे। जब मैं बोली कि मेरे मां-बाप गरीब है। कहां से मोटरसाइकिल देंगे तो मेरे पति देव और सास-ससुर गाली गलौज करते हुए रोज रोज मारपीट एवं प्रताड़ित कर रहे हैं और कह रहे हैं कि घर से निकाल देंगे। इतना सूचना पाकर हम लोग संबंधियों के साथ ससुराल वालों के पास जाकर काफी गिर गिराया थे।जिसके बाद पुत्री के ससुराल वाले शांत हो गए।सोमवार को पुत्री ने करीब 3:00 बजे मेरी बेटी ने फोन करके बताया कि यह लोग हमारे साथ मारपीट कर रहे हैं। सूचना पाकर मैं घर के अन्य सदस्यों के साथ बेटी के ससुराल करीब 7:00 बजे पहुंचा तो देखा मेरी बेटी पिंकी कुमारी एवं नाती शुभम कुमार का घर में जला हुआ शव है तथा घर के सभी

लोग फरार हैं। ससुराल वाले द्वारा दहेज को लेकर जलाकर हत्या कर दिए हैं। इस मामले में पति सूरज कुमार देवर कौशल कुमार ससुर रामप्रवेश महतो सास कांति देवी को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। थानाध्यक्ष अमृतेश कुमार ने बताया कि शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल भेज दिया तथा प्राथमिकी दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।