Fri. Jan 21st, 2022

समाजसेवियों ने की पहल तो कई वार्डों में हुई अलाव की व्यवस्था, कंपकपाती ठंड में गरीबों को मिली राहत

Share this News

समाजसेवियों ने की पहल तो कई वार्डों में हुई अलाव की व्यवस्था, कंपकपाती ठंड में गरीबों को मिली राहत

रिपोर्ट-रितेश हन्नी

सहरसा – पिछले कुछ वर्षों की अपेक्षा, इस वर्ष कड़ाके की ठंढ़ पड़ रही है। इस हाड़ को थर्रा देनी वाली ठंढ़ में, सबसे अधिक तकलीफ में गरीब तबके के लोग हैं। सहरसा में भी कड़ाके की ठंढ़ पर रही है लेकिन जिला प्रशासन और नगर परिषद को नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत वार्ड में बसे गरीबों की कोई चिंता नहीं है। ऐसे में लोगों की मदद हेतु सामजिक लोगों को आगे आना पड़ रहा है। समाजसेवा से जुड़े लोग लोगों तक मदद

पहुँचाने में जुटे हुए हैं। नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत वार्ड नं० 11 में समाजसेवा से जुड़े समीर पाठक बीते कई दिनों से गरीबों के बीच खुद से जा जाकर अलाव की व्यवस्था कर रहें हैं। वहीं वार्ड नं० 12 युवा समाजसेवी रोहित झा भी वार्ड में बसे लोगों के बीच हरसंभव मदद पहुँचाने में जुटे हैं। जहां उनके द्वारा गरीब तबके के लोगों को आर्थिक रूप से भी मदद किया जा रहा है। वहीं इस कड़ाके की ठंढ़ में वार्ड में अलाव का भी व्यवस्था किया जा रहा है। जानकारी देते हुए समीर पाठक ने कहा कि बीते कई दिनों से वार्ड के विभिन्न हिस्से में अलाव का व्यवस्था किया जा रहा है। यह अभियान आगे भी जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि जाति और धर्म से ऊपर उठकर, सभी की सेवा करना ही असली समाजसेवा है। हम अपनी क्षमता से अधिक लोगों

की मदद करने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं रोहित झा ने कहा कि उन्हें इस बात का बेहद दुःख है कि नगर परिषद की तरफ से गरीबों के लिए न अभी तक कम्बल की व्यवस्था की गई है और न हीं वार्ड के लोगों के लिए अलाव का व्यवस्था किया गया है। उन्होंने कहा कि इस मदद के जरिये हम अधिक से अधिक लोगों के बीच खुशी बाँटने की कोशिश कर रहे हैं। समाजसेवी श्री झा ने कहा कि जब सिस्टम को सोया देखा तो हमें अपनी सामाजिक जिम्मेवारी का अहसास हुआ। सबसे पहले हमने वार्ड में जगह-जगह अलाव की व्यवस्था कराई है, जो निरंतर जारी है। वाकई यह मानवीय प्रयास, एक तरफ जहाँ गरीब-गुरबों के बीच राहत और सुकून परोस रहा है, वहीँ सिस्टम और सरकार सहित देश भर के लिए एक बड़ा संदेश है।