Mon. Jun 21st, 2021

जो गरीबों की मदद करेगा, अल्लाह का साया उसके साथ होगा सूफी संत प्रो.जौहर साफियावादी

Share this News

जो गरीबों की मदद करेगा, अल्लाह का साया उसके साथ होगा सूफी संत प्रो.जौहर साफियावादी

B.B.N-DESK

मास्क का उपयोग करने तथा दो गज की दुरी बनाए व शारीरिक दूरी का पालन करने की अपील की : “सूफी संत प्रो. जौहर साफियावादी”

मशरक (सारण) : सब्र और इबादत का महीना रमजान सभी महीनों का सरदार भी कहा जाता है। इसे बख्शीश का महीना भी कहा जाता है। अल्लाह इस महीने में बंदो के गुनाहों को जलाकर खत्म कर देता है। इस माह में बंदों का आमाल की कीमत बढ़ जाती है। मतलब की नफल का स्वास्थ्य फर्ज और फर्ज का सवाब 70 फजो के बराबर हो जाता है। इस महीने में रोजेदारों को इफ्तार कराने पर मगफिरत का वादा है। डाॅ.पीएन सिंह डिग्री काॅलेज छपरा के सूफी संत प्रो. जौहर साफियावादी ने कहा कि इस महीने में ज्यादा से ज्यादा गरीबों की मदद करो। अल्लाह पाक तुम्हें और ज्यादा मालदार बना देगा। उन्होंने कहा कि जो गरीबों की मदद करेगा, अल्लाह का साया उसके साथ

होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के इस दौर में परहेजगार बनें। कोरोना गाइड लाइन के कारण मस्जिद के जगह लोग अपने अपने घरों में इबादत करें। उन्होंने कहा कि इससे अल्लाह रोजेदारों की नेकी में कमी नहीं बल्कि 70 गुना इजाफा करेंगे। सूफी संत प्रो. जौहर साफियावादी ने मास्क का उपयोग करने तथा दो गज की दुरी बनाए व शारीरिक दूरी का पालन करने की अपील की।