Fri. Jan 27th, 2023

कनाडा की नागरिकता को लेकर अक्षय कुमार की सफाई

Share this News

मुंबई, 03 मई (हि स)। अक्षय कुमार इन दिनों अपनी नागरिकता को लेकर विवादों में घिर गए हैं। इन विवादों को लेकर अक्षय कुमार ने पहली बार अपनी सफाई दी है। मीडिया के नाम जारी एक बयान में अक्षय कुमार ने अपने कनाडा के पासपोर्ट को लेकर कहा है कि मेरी नागरिकता को लेकर इतनी नकारात्मकता और गैरजरुरी दिलचस्पी की कोई वजह मैं नहीं समझ पाया। इस बयान में अक्षय कुमार का कहना है कि उन्होंने कभी ये बात किसी भी स्तर पर नहीं छिपाई कि उनके पास कनाडा का पासपोर्ट है। साथ ही &nbsn>उनका कहना है कि पिछले सात सालों में वे एक बार भी कनाडा की यात्रा पर नहीं गए हैं। उनका कहना है कि मैं भारत में काम करता हूं और यहां सभी तरह के टैक्स भरता हूं। बयान में आगे कहा गया है कि इतने सालों में उनको कभी भारत के प्रति प्यार को लेकर सफाई नहीं देनी पड़ी है। अक्षय का कहना है कि ये उनके लिए निराशा की बात है कि उनकी नागरिकता को लेकर व्यर्थ के विवाद खड़े किए जा रहे हैं, जबकि ये एक निजी, कानूनी और गैर राजनैतिक मामला है, जिसके साथ किसी और का कोई लेना-देना नहीं होना चाहिए। बयान के आखिर में अक्षय कुमार ने कहा है कि वे अपनी क्षमता के मुताबिक, भारत को मजबूत बनाने के लिए अपना योगदान देते रहेंगे। अक्षय कुमार का ये बयान सोशल मीडिया पर जारी किया गया है।

अक्षय कुमार हाल ही में चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक गैरराजनैतिक बातचीत को लेकर मीडिया की सुर्खियों में आए थे। इसके बाद जब मुंबई में मतदान हुआ, तो उनकी नागरिकता का मामला सुर्खियों में आया, क्योंकि कनाडा का नागरिक होने की वजह से अक्षय कुमार भारत की चुनावी प्रक्रिया का हिस्सा नहीं बन सकते और न ही मतदान कर सकते हैं। प्रधानमंत्री के साथ गैरराजनैतिक बातचीत से पहले अक्षय कुमार को लेकर ये शगूफा भी छोड़ा गया था कि भारतीय जनता पार्टी उनको दिल्ली की किसी सीट से चुनावों में उतारना चाहती है। ये चर्चा उस वक्त शुरु हुई थी, जब अक्षय ने सोशल मीडिया पर रहस्य का माहौल बनाते वक्त कहा था कि वे एक ऐसा काम करने जा रहे हैं, जो उन्होंने पहले कभी नहीं कहा। इसके बाद उनके चुनाव लड़ने की हवा इतनी तेज हुई कि अक्षय कुमार को सोशल मीडिया पर सफाई देनी पड़ी। अक्षय कुमार ने सस्पेंस वाला ये पोस्ट प्रधानमंत्री के साथ अपनी गैरराजनैतिक बातचीत को लेकर ही किया था।