Sun. Jun 26th, 2022

भगवान के घर में देर है अंधेर नहीं! कथन सच हुआ साबित, पुजारी का हत्यारा हुआ गिरफ्तार ।

Share this News

छपरा से आनंद वर्मा की रिपोर्ट :

बीते 5 अप्रैल को छपरा के नगरा थाना अंतर्गत अफौर में राम जानकी ठाकुरबारी मंदिर के पुजारी की हत्या और लूट की घटना हुई थी । इस मामले में सारण पुलिस ने दो अपराधियो को गिरफ्तार किया है और इनके पास से चोरी गई ठाकुरबारी का सारा सामान जिसमें घंटी, हाथ घंटी, अखंड ज्योति ,दीपक ज्योति लुटिया ,पीतल का शिवलिंग, घंटी , कटोरा ,शंकर भगवान की छोटी मूर्ति ,छोटा कमंडल को पुलिस ने बरामद किया है।

पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर एक संदिग्ध शिवम कुमार पिता रमेश दास साकिन भगवानपुर सिमरा थाना पारु जिला मुजफ्फरपुर वर्तमान पता थाना नगरा ओपी को गिरफ्तार कर सदन पूछताछ किया। पूछताछ के क्रम में गिरफ्तार शिवम कुमार द्वारा अपनी संलिप्तता नगरा रामजानकी मठ में हत्या में चोरी के मामले में स्वीकार करते हुए अपराध कर्मियों के नाम पते बताएं इनके निशानदेही पर मंदिर में चोरी के अन्य सामान तथा और मठ में हुए मूर्ति चोरी के सामान एवं चोरी के मोबाइल के साथ रिसीवर विवेक कुमार विवेक ज्वेलर्स थाना जैतपुर जिला मुजफ्फरपुर को गिरफ्तार किया गया गिरफ्तार शिवम कुमार ने स्वीकार किया कि छपरा एवं मुजफ्फरपुर में अपने साथियों के साथ घूम घूम कर मौका मिलने पर चोरी करते थे तथा चोरी के सामान को मुजफ्फरपुर विवेक ज्वेलर्स को बेचते थे।

घटना के संबंध में अपराधियों ने बताया कि अक्षर मंदिर पर आते थे और बंदी के पुजारी सुन की जान पहचान हो गई थी चोरी की वारदात के दिन जब वे रात में सामान चोरी कर रहे थे तब मंदिर के पुजारी जग गए और वह उसे पहचान गए। पहचान हो जाने पर भेद खुलने के डर से वे लोग मंदिर के पुजारी को गला घोट कर मौत के घाट उतार दिए। इन अपराधियों की गिरफ्तारी में नगरा ओपीके ओपी प्रभारी सुनील प्रसाद और एसआईटी के सदस्यों की विशेष भूमिका रही।