Tue. Oct 26th, 2021

वामदलों और जनतांत्रिक संगठनों द्वारा 25 जनवरी को मानव श्रृंखला बनाने का ऐलान

Share this News

सिवान-भाकपा माले की जिला कमिटी की बैठक को सम्बोधित करते हुए भाकपा माले पोलित ब्यूरो सदस्य धीरेन्द्र झा ने कहा कि नागरिकता कानून में संशोधन,जनसंख्या रजिस्टर और नागरिकता रजिस्टर का प्रोजेक्ट देश के दलितों,आदिवासियों,पिछड़ों और अक्लियतों को परेशान करने वाला है।देश को अराजकता में धकेलने की कोशिश है ताकि मंहगाई,बेकारी और मुल्क की आर्थिक तबाही से ध्यान मोड़ा जा सके।यह प्रोजेक्ट संविधान की मूलभावना-संकल्पना को तहस नहस करने वाला है।उन्होंने कहा कि छात्रों,बुद्धिजीवियों,दलितों और अल्पसंख्यकों का राष्ट्रीय आंदोलन देश और संविधान बचाने का आंदोलन है।25 जनवरी को इसके खिलाफ वाम दलों व अन्य लोकतांत्रिक संगठनों की ओर से मानव श्रृंखला है,इसे व्यापक भागीदारी वाला आंदोलन बनाना है।30 जनवरी को गांधी शहादत दिवस के मौके पर 11 बजे से 4 बजे तक सभी जिला मुख्यालयों पर सत्याग्रह होगा।आगे उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार एनपीआर पर तत्काल रोक लगाएं अन्यथा 24 फरबरी को विधानसभा मार्च होगा।
बैठक में बोलते हुए पार्टी केंद्रीय कमिटी के सदस्य सह सिवान ज़िला सचिव ने कहा कि सिवान में चल रहे आंदोलन को और मज़बूती देने के लिए 5 फरबरी को सिवान में बड़ी सभा होगी,जिसे दीपंकर भट्टाचार्य सहित अन्य नेतागण हिस्सा लेंगे।पार्टी के विधायक सत्यदेव राम ने कहा कि राशन का होम डिलीवरी हो तथा दलितों-गरीबों को पोखरों से उजाड़ने की नोटिस वापस ले।बैठक को अन्य लोगों के अलावे सोहिला गुप्ता,जयनाथ यादव,हँसनाथ राम,मुकेश कुमार,शीतल पासवान,लालबहादुर कुशवाहा आदि ने सम्बोधित किये।