Wed. Jun 19th, 2024

इटली के प्रतिनिधिमंडल ने रांची स्मार्ट सिटी का किया भ्रमण

Share this News

 

*सूचना एवं जनसंपर्क निदेशालय रांची*

*विज्ञप्ति संख्या-100/2023*======================

*आईयूआरसी कार्यक्रम के तहत इटली के प्रतिनिधिमंडल ने रांची स्मार्ट सिटी का किया भ्रमण*

*कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर की प्रशंसा की*

*शहर में संचालित पब्लिक साइकिल  शेयरिंग सिस्टम को भी सराहा।*

 

*रांची।*

यूरोपियन यूनियन इंटरनेशनल अर्बन एंड रीजनल कॉरपोरेशन प्रोग्राम के तहत इटली के रेजियो इमीलिया की डिप्टी मेयर कारलोटा बॉनविसिनी अपनें दो सहयोगियों के साथ रांची में निर्माणाधीन रांची स्मार्ट सिटी की विशेषता और उसके महत्वपूर्ण पहलुओं को बारीकी से जाना। उन्होंने कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर, शहर में संचालित पब्लिक साइकिल शेयरिंग सिस्टम को भी सराहा।

रांची स्मार्ट सिटी के महाप्रबंधक राकेश कुमार नंदक्योलियार ने पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से हर पहलु की जानकारी से प्रतिनिधिमंडल को अवगत कराया।

*कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर की दी गयी जानकारी।*

इस दौरान रांची स्मार्ट सिटी की ओर से स्थापित कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर और उससे स्वसंचालित रांची की ट्रैफिक व्यवस्था पर भी चर्चा हुयी। प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने कई लाइव डेमों भी देखा और यह जाना कि किस प्रकार इस सिस्टम से कमांड सेंटर में बैठकर पूरे शहर को एक साथ संबोधित किया जा सकता है। उन्हें बताया गया कि अपराध नियंत्रण और अपराधिक घटनाओं के उद्भेदन में भी इस सेंटर की महती भूमिका है। सदस्यों को यह भी बताया गया कि 24 घंटे कार्यरत इस सेंटर में पुलिस की भी कई टीमें मौजूद रहती हैं।

*पब्लिक साइकिल शेयरिंग सिस्टम पर भी चर्चा हुयी*

गौरतलब है कि रांची और रेजियो इमीलिया के बीच कॉपरेशन सस्टनेबल अर्बन डेवलपमेंट इनॉग्रेशन प्रोग्राम की शुरुआत हुयी है, जिसके तहत दोनों शहरों के बीच नन मोटराईज्ड ट्रांसपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए नॉलेज शेयरिंग के कार्यक्रम भी होने हैं। रांची स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन की ओर से बताया गया कि नन मोटराईज्ड ट्रांसपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए रांची शहर में पब्लिक साइकिल शेयरिंग सिस्टम कार्यरत है, जिसका लाभ हर वर्ग के लोग ले रहे हैं। बच्चे और युवा शैक्षणिक कार्यों के लिए तो कई लोग आवागमन और कई युवा अपनी रोजी रोटी के लिए भी साइकिल का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस क्रम में प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों नें रांची में चल रहे साइकिल सेवा का भी आनंद लिया।

*इंटिग्रेटेड इन्फ्रास्ट्रक्चर की भी ली जानकारी।*

सदस्यों नें रांची स्मार्ट सिटी में विकसित हो रहे यूटिलिटी सर्विसेज की भी जानकारी ली और पूरे एबीडी क्षेत्र का भ्रमण किया। रांची स्मार्ट सिटी के जीएम और अन्य पदाधिकारियों ने शहर के विकास, उसमें दी जा रही अत्याधुनिक सुविधाओं और पर्यावरण के लिहाज से किए गए उपायों की जानकारी दी। उन्हें बताया गया कि इस शहर को नॉलेज हब के रूप में विकसित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगर कोई विश्वविद्यालय क्यूएस रैंकिंग में 500 के अंदर रैंक पर है, तो उसे 1 रुपया टोकन मनी पर 25 एकड़ जमीन यूनिवर्सिटी खोलने के लिए दिया जा सकता है।

*रेजियो इमीलिया की ओर से भी दिया गया प्रेजेंटेशन*

रेजियो इमीलिया शहर के तकनीकी निदेशक ने अपने शहर पर आधारित प्रेजेंटेशन दिया और बताया कि उनके शहर में सस्टेनेबल मोबिलिटी के लिए क्या सुविधाएं दी जा रही हैं। उन्होंने बताया कि वहां की सड़कें भी रांची की तरह ही हैं, पर उसमें उन्होंने साइक्लिंग को विशेष तव्वजो देते हुए साइक्लिंग ट्रैक मार्क किया है और वहां साइकिल से दफ्तर जानेवाले लोगों को इन्सेंटिव भी दिया जाता है।

*स्मार्ट सिटी एबीडी क्षेत्र का किया भ्रमण*

प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों नें रांची स्मार्ट सिटी के एबीडी क्षेत्र का साइकिल से भ्रमण किया और स्मार्ट सिटी में हो रहे कार्यों की प्रशंसा की। प्रतिनिधिमंडल को लीड कर रहीं रेजियो इमीलिया ने शहर की डिप्टी मेयर से कहा कि यहां जो कार्य हो रहा है, वह अव्वल दर्जे का है और यह शहर आसपास के क्षेत्रों के लिए मॉडल शहर होगा।

*कार्यक्रम में रहे मौजूद*

कार्यक्रम में रेजियो इमीलिया शहर की डिप्टी मेयर कारलोटा बॉनविसिनी, आईयूआरसीकी ओर से संयोजक के रूप में पानाजियोटीस कारा, रेजियो इमीलिया नगरपालिका के निदेशक तकनीकी पाओलो गांडोली,रांची स्मार्ट सिटी के जीएम राकेश कुमार नंदक्योलियार, कंपनी सेक्रेटरी बिपिन बिहारी साह, सीएफओ ज्योतिपुष्प तथा रांची स्मार्ट सिटी के पदाधिकारी मौजूद थे।

 

Latest News