Wed. Apr 17th, 2024

17 फरवरी से प्रारंभ मैट्रिक की परीक्षा में बाधा डालने वाले पर होगी सख्त कार्रवाई : डीएम

Share this News

अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग आर के महाजन और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर के साथ मैट्रिक परीक्षा 2020 के सफल संचालन एवं 17 फरवरी से प्रारंभ हो रहे इंटरमीडिएट परीक्षा मूल्यांकन को लेकर हुई वीडियो कांफ्रेंसिंग से प्राप्त निर्देश के आलोक में जिला अधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने कहा कि सारण जिला में मैट्रिक की परीक्षा शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराई जाएगी। उसमें कोई भी बाधा डालने का प्रयास करेगा उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न शिक्षक संगठनों के द्वारा हड़ताल पर जाने की बात कही जा रही है, हड़ताल को शिक्षा विभाग के द्वारा अवैध घोषित किया गया है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रधान सचिव शिक्षा विभाग ने कहा कि शिक्षकों की मांगों के संबंध में एक उच्च स्तरीय समिति बनाई गई है। इनके सेवा शर्त में सुधार हेतु कार्य किया जा रहा है। इसके बावजूद अगर शिक्षक हड़ताल पर जाएंगे और परीक्षा के दौरान किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न करने का प्रयास करेंगे तो इनके विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराकर विभागीय कार्रवाई की जाएगी। जिलाधिकारी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग में कहा कि परीक्षा संपन्न कराने की सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है। जिलाधिकारी के द्वारा जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि परीक्षा के पहले दिन से जितने शिक्षक अनुपस्थित पाए जाए उनकी सूची बनाई जाए और कार्य नहीं तो वेतन नहीं के आधार पर कार्रवाई करते हुए उनके निलंबन और उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई प्रारंभ की जाए। किसी को कोई ढील नहीं दी जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि वीक्षण कार्य के लिए प्रतिनियुक्त जो शिक्षक योगदान नहीं करें उनके विरुद्ध बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की परीक्षा अधिनियम 1981 की सुसंगत धारा एवं सरकारी कार्य में बाधा डालने के तहत कार्रवाई की जाए तथा इस अवधि को उनकी सेवा में टूट माना जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी परीक्षा केंद्रों के आसपास वीडियोग्राफी कराई जाए ताकि केंद्र के बाहर विरोध प्रदर्शन करने वालों की पहचान कर कार्रवाई की जा सके। जिलाधिकारी के द्वारा जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, सीआरसीसी, बीआरसीसी के प्रति दिन की अनुपस्थिति विवरणी प्राप्त की जाए ताकि पता चल सके कि कौन से लोग अनुपस्थित है और हड़ताल में सम्मिलित है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिलाधिकारी के साथ उप विकास आयुक्त डॉ आदित्य प्रकाश, जिला शिक्षा पदाधिकारी अजय कुमार सिंह, सहित इंटरमीडिएट मूल्यांकन केंद्र के प्राचार्य उपस्थित थे।