Mon. May 27th, 2024

मनीष कश्यप ने कर दिया फाइनल, इस सीट से लड़ेंगे चुनाव

Share this News

मनीष कश्यप ने आखिरकार चुनाव लड़ने का फैसला कर लिया है। उन्होंने बिहार की एक खास सीट से चुनाव लड़ने की बात कही है। इसके साथ उन्होंने जनसंपर्क अभियान भी शुरू कर दिया है। वह जगह-जगह लोगों को संबोधित भी कर रहे हैं इससे जुड़े वीडियो भी सामने आ रहे हैं। इसमें उन्होंने चुनाव लड़ने की वजह भी बताई है।

बिहार के यू-ट्यूबर त्रिपुरारी तिवारी उर्फ मनीष कश्यप (Manish Kashyap) ने चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल के माध्यम से बताया है कि वह बिहार में पश्चिम चंपारण सीट से चुनाव लड़ेंगे। हालांकि, उन्हें अभी तक किसी भी पार्टी से सिंबल नहीं मिला है। माना जा रहा है कि वह निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतर सकते हैं।

मनीष कश्यप ने यहां तक कि पश्चिम चंपारण में जनसंपर्क अभियान भी शुरू कर दिया है। लोगों के साथ संबोधन का एक वीडियो मनीष ने अपने यूट्यूब चैनल पर जारी किया है। इसमें वह लोगों से कह रहे हैं कि भाजपा यह कह रही है कि उन्हें कांग्रेस का सपोर्ट है। दूसरी ओर, कांग्रेस यह कह रही है कि उन्हें भाजपा का समर्थन प्राप्त है।

रोजगार और नौकरी सहित अन्य समस्याओं पर भी बात की

मनीष ने जमकर भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) पर भड़ास निकाली। एक तरफ उन्होंने भाजपा को रोजगार और नौकरी को लेकर घेरा। दूसरी ओर, कांग्रेस पर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया। इधर, मनीष ने लोगों को संबोधित करते हुए कई बातें कही हैं। उन्होंने यह भी कहा है कि आज तक पश्चिम चंपारण में कोई गरीब का लड़का सांसद नहीं बना है।

गौरतलब है कि मनीष कश्यप 23 दिसंबर, 2023 को जेल से छूटकर बाहर आए थे। करीब नौ महीने से जेल में बंद  मनीष कश्यप को पटना की बेउर जेल से जमानत पर रिहा किया गया था। (West Champaran Lok Sabha Seat)

तमिलनाडु सरकार ने NSA लगा दिया था

मनीष कश्यप पर तमिलनाडु सरकार ने NSA लगा दिया था। उन पर तमिलनाडु में बिहार के मजदूरों को लेकर कथित तौर पर फर्जी वीडियो शेयर करने का आरोप लगा था। इसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया था।

जेल से छूटने के बाद मनीष ने अपनी राजनीतिक सक्रियता बढ़ाई थी। कयास थे कि किसी राष्ट्रीय पार्टी की टिकट पर चुनाव मैदान में उतरेंगे। हालांकि, ऐसा नहीं हुआ। बकौल मनीष अब वह निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में मैदान में उतर रहे हैं।